बुधवार, 6 फ़रवरी 2013

वज़न,माइग्रेन,उच्च-रक्तचाप और डायरिया के लक्षणों पर ग़ौर करें

अक्सर यह देखा जाता है कि किसी मरीज की बीमारी, मुख्य समस्या न होकर किसी अन्य बीमारी का लक्षण मात्र होती है। इसे ‘शेडो डिजीज’ भी कहा जाता है। माइग्रेन और दिल की बीमारी का सम्बन्ध इसका उदाहरण है। आइए जानते हैं ऐसी कुछ बीमारियों के बारे में, जो किसी अन्य गंभीर बीमारी का इशारा भर हो सकती हैं-

वजन कम होना 
किस ओर है इशारा-डायबिटीज, कैंसर, लिवर या थॉयराइड संबंधी समस्या का लक्षण अचानक आपका वजन बहुत कम हो गया है। आप कहेंगे वजन कम होना तो अच्छी बात है। लेकिन, कम समय में ही बहुत ज्यादा वजन कम होना चिंता का विषय है। यह किसी अन्य बीमारी का संकेत हो सकता है। इसे नजरअंदाज न करें। डॉक्टर से संपर्क करें और अपने वजन के अचानक कम होने का कारण जानें। अचानक वजन कम होने के पीछे डायबिटीज और लिवर की समस्या हो सकती है। यह भी हो सकता है कि आपको थॉयराइड या कैंसर की परेशानी हो। तो, ऐसे में देर करने की बिलकुल जरूरत नहीं। 

कैसे करें बचाव 
अपनी जांच करवाएं और डॉक्टरी सलाह के आधार पर अपनी जीवनशैली में सकारात्मक बदलाव लाएं। संतुलित आहार लें, नियमित व्यायाम करें। 

माइग्रेन 
किस ओर है इशारा- स्ट्रोक और हार्ट अटैक का खतरा कामकाजी भागदौड़ में माइग्रेन को अक्सर आम तकलीफ मान लिया जाता है। इसके लिए कोई भी आम दर्द निवारक गोली खाकर हम मान लेते हैं कि समस्या का समाधान हो गया, जबकि ऐसा है नहीं। अगर आपको नियमित तौर पर माइग्रेन का अटैक आता रहता है तो इसे हल्के में लेने की गलती न करें। इस सिर दर्द के तार हृदय संबंधी रोग का इशारा हो सकते हैं।

कैसे करें बचाव 
हालांकि, अभी तक माइग्रेन से दिल पर पड़ने वाले असर को रोकने के संबंध में ज्यादा कामयाबी नहीं मिल पायी है। लेकिन, आप अपने दिल को स्वस्थ रखने का प्रयास जरूर कर सकते हैं। साथ ही आपको चाहिए कि आप अपने आहार में आवश्यक बदलाव लाएं। व्यायाम भी काफी मदद कर सकता है। शराब, धूम्रपान से तौबा करना ही आपके लिए मुफीद रहेगा। इससे न सिर्फ दिल तंदुरुस्त रहेगा, बल्कि आप अन्य कई तकलीफों से भी बचे रहेंगे।

उच्च रक्तचाप 
किस ओर है इशारा- कहीं आपको डायबिटीज तो नहीं ऐसा जरूरी नहीं है कि हर डायबिटीज वाले मरीज को हाई ब्लड प्रेशर हो या हर बीपी वाले मरीज को डायबिटीज हो। लेकिन उच्च रक्त चाप वाले मरीज को डायबिटीज होने की आशंका अधिक होती है। मौजूदा जीवनशैली में हाई ब्लड प्रेशर लोगों में तेजी से आम समस्या बनता जा रहा है। इस बीमारी की मुख्य वजह हमारी बिगड़ी हुई जीवनशैली ही है। भोजन को लेकर अनियमितता बरतना, नींद पूरी न होना आदि ही इस बीमारी की मुख्य वजहें हैं। 

कैसे करें बचाव 
उच्च रक्तचाप की शिकायत है तो फौरन डायबिटीज की भी जांच करवाएं। आप डायबिटीज या उसके प्रभावों को जीवनशैली में जरूरी बदलाव लाकर कम कर सकते हैं। 

डायरिया 
किस ओर है इशारा- कहीं पित्ताशय की बीमारी तो नहीं अगर आप लंबे समय से दस्त से परेशान हैं तो आपको फौरन अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। हो सकता है कि आप पूरी तरह स्वस्थ हों, लेकिन यह भी हो सकता है कि यह कैंसर या पित्ताशय से जुड़ी किसी बीमारी के कारण हो। 

कैसे करें बचाव 
साफ-सुथरी जगह पर ही भोजन करें। अल्कोहल और धूम्रपान के सेवन से दूर रहें। सेहतमंद जीवनशैली अपनाएं(सरोज मल्होत्रा,हिंदुस्तान,नई दिल्ली,31.1.2013)।

10 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत बढ़िया जानकारी....
    लक्षणों के प्रति जागरूक रहे तो बीमारियों से बचा जा सकता है..

    आभार
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  2. सुन्दर प्रस्तुति ||
    आभार आदरणीय-

    उत्तर देंहटाएं
  3. जागरूक रहकर भी इन गंभीर बीमारियों से बचा जा सकता है..

    WELCOME TO MY RECENT POST बदनसीबी,

    उत्तर देंहटाएं
  4. जानिए मच्छर मारने का सबसे आसान तरीका - ब्लॉग बुलेटिन आज की ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत उपयोगी और काम की जानकारी | धन्यवाद्

    Tamasha-E-Zindagi
    Tamashaezindagi FB Page

    उत्तर देंहटाएं
  6. उपयोगी जानकारी डी है |
    आशा

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत बढ़िया उपयोगी जानकारी....

    उत्तर देंहटाएं
  8. अच्छी जानकारी भरा लेख, आभार

    उत्तर देंहटाएं
  9. कोशिश करते रहना चाहिये स्वास्थ्य को साधने की.

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।