शुक्रवार, 23 मार्च 2012

तनाव में क्या खाएं,क्या नहीं

आजकल अधिकांश लोगों के साथ समस्या रहती है असंतुलित खान-पान की। खाने-पीने के संबंध में यदि सावधानी नहीं रखी जाती है तो तुरंत इसके बुरे प्रभाव सामने आ जाते हैं। तेजी से बदलते खान-पान में ऐसी चीजों को छोड़ देना चाहिए जो आपकी सेहत के लिए ठीक नहीं हैं। 

इस दौर में आपको क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, जानिए... 

यदि आप तनाव के कारण परेशान हैं तो ध्यान रखें ये बात कि स्ट्रेस से दिमाग ऑक्सीडेटिव डैमेज के प्रति संवेदनशील हो जाता है। यानी कोशिकाओं को मिलने वाली ऑक्सीजन की मात्रा प्रभावित होने लगती है। आगे चल कर इसका प्रभाव मस्तिष्क की कार्यप्रणाली पर पड़ता है। ऐसे में एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर खान-पान अपनाने से न सिर्फ मस्तिष्क बल्कि किडनी, लीवर और दिल को भी सेहतमंद बनाए रखा जा सकता है। इसके लिए दिन भर में तीन से पांच छोटे बाउल ताजे फलों का सेवन करें। फल विटामिन सी, केरोटिनायड्स और फाइबर से भरपूर होते हैं। ये कोशिकाओं को पोषण दे, उन्हें क्षतिग्रस्त होने से बचाते हैं। इसके साथ ही ज्यादा कॉफी या चाय पीने से बचें। कैफीन की ज्यादा मात्रा से तनाव में वृद्धि होती है। शाम को तो इनके सेवन से जरूर बचें, क्योंकि कैफीन का असर नींद पर पड़ता है। 

जो लोग डिप्रेशन का सामना कर रहे हैं वे दिनभर में सात अखरोट खाएं। ये ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर होते हैं, जो दिमाग के न्यूरोट्रांसमीटर पर असर छोड़ते हैं। इसके अलावा अगर डिप्रेशन ज्यादा रहता है तो कम वसा वाले डेयरी उत्पाद, मेवे और साबुत अनाज का सेवन करें। इनमें सेलेनियम अच्छी मात्रा में होता है, जो निराशा कम करने में मददगार है। इसके साथ ही विटामिन बी3 से भरपूर बीन स्प्राउट और ब्रोकोली, केले का सेवन करें। इनमें विटामिन सी और ए भी होता है, जो निराशा कम करने में मददगार है। सेब, बादाम और गाजर का सेवन करें, इनमें प्राकृतिक एंटीडिप्रेसेंट फिनेलिथैलेलाइन होता है(दैनिक भास्कर,उज्जैन,21.3.12)। 


विश्व तपेदिक दिवस पर कल सुबह आठ बजे पढ़िएः 
क्यों बढ़ रहे हैं महिलाओं में टीबी के मामले 


और शाम चार बजेः 
बच्चों में टीबी का पता कैसे चले?

13 टिप्‍पणियां:

  1. सुन्दर प्रस्तुति ।

    नवसंवत्सर की शुभकामनायें ।।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. बांटे राधारमण जी, नित प्रति स्वास्थ्य-विचार ।

      हुए अश्वनी बन्धु ये, बहुत बहुत आभार ।

      बहुत बहुत आभार, आज चर्चा अवसादी ।

      प्रस्तुत खाद्य विचार, करे क्या क्या बर्बादी ।

      लेकिन सुनिए मित्र, अगर बीबी न डांटे ।

      रविकर प्रसन्नचित्त, ख़ुशी दुनिया को बांटे ।।

      हटाएं
  2. I am a high BP patient.I take one tablet of LOSAR-H everyday and try to keep myself cool to the maximum possible extent.

    उत्तर देंहटाएं
  3. समस्त मानव जाति तनाव मुक्त हों इसी कामना के साथ आपको स:परिवार नवसंवत्सर २०६९ की हार्दिक शुभकामनाएँ|

    उत्तर देंहटाएं
  4. अक्सर लोग तनाव में उल्टा करते हैं . यानि अधिक धूम्रपान करते हैं , मदिरापान करते हैं और ज्यादा खाना खाते हैं .
    सही सचेत किया है .

    उत्तर देंहटाएं
  5. डिप्रेशन का सामना कर रहे हैं वे दिनभर में सात अखरोट खाएं। ये ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर होते हैं,

    उपयोगी जानकारी!!

    विक्रमी नवसंवत्सर २०६९ के शुभागमन पर बधाई एवं शुभकामनाएँ|
    नववर्ष आपसभी के लिए तनावमुक्त मंगलमय और कल्याणकारी हो।

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत उपयोगी जानकारी । तनाव इस भागदौड भरी जिंदगी में अक्सर हो जाता है ।

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत उपयोगी प्रस्तुति...
    विक्रमी नवसंवत्सर २०६९ की बधाई एवं शुभकामनाएँ|

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत उपयोगी जानकारी

    उत्तर देंहटाएं
  9. Bahut acchi aur Gyanvardhak Information, Rahi baat tanav ki to ham jyada Tension me nahi rahte ( Abhi filhaal) par aapki ye jankari hamare future me kam me jarur aayegi (jab tanav hoga tab).

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।