बुधवार, 4 जनवरी 2012

बियर्ड रैश का उपचार

त्वचा पर आमतौर पर जो बैक्टीरिया मौजूद होते हैं वही बियर्ड रैश या दाढ़ी बनाने के कारण बनने वाले रैश का कारण होते हैं। इनमें स्ट्रेप्टोकोकाए और स्टेफिलोकोकाए जैसे बैक्टीरिया शामिल हैं। ये बैक्टीरिया त्वचा पर भले ही मौजूद होते हों लेकिन ये त्वचा के सुरक्षा कवच को भेदकर शरीर के अंदर प्रवेश नहीं कर पाते। लेकिन दाढ़ी शेव करते हुए यदि त्वचा कट जाए तो बैक्टीरिया इसके ज़रिए अंदर प्रवेश कर जाते हैं जिससे संक्रमण फैलने लगता है। रेज़र को उपयोग करने से पहले ठीक से साफ नहीं करना या किसी और के उपयोग किए हुए रेज़र का इस्तेमाल करने से बियर्ड रैश का खतरा बढ़ जाता है। व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता यदि किसी भी कारण से से कम होती है तो वह भी बियर्ड रैश का कारण बन सकता है।

उपचार
दाढ़ी बनाते हुए त्वचा के रेज़र से कटने के बाद यदि वहाँ रैशैस या फोड़े निकल आएँ तो हो सकता है कि इसका कारण संक्रमण हो। चिकित्सक से संपर्क कर इसका निदान करवा लें। बियर्ड रैश के उपचार के लिए एंटीबायोटिक दवाएँ दी जाती हैं, जिनका पूरा डोज़ लेना ज़रूरी होता है। उपचार के बाद भी यदि सावधानियाँ न बरती जाएँ तो संक्रमण फिर से हो सकता है। ये दोबारा न हो इसके लिए कुछ दिनों तक गीली शेव के बजाय इलेक्ट्रिक शेविंग करें।  

गीली शेव करने से त्वचा की ऊपरी परत निकल सकती है और इस तरह बने कट आदि के ज़रिए फिर से संक्रमण हो सकता है। इलेक्ट्रिक शेविंग त्वचा पर हल्के से काम करती है, इसलिए संक्रमण के बाद कुछ दिनों के लिए यही विकल्प अपनाना बेहतर होता है। टी-ट्री ऑइलयुक्त आफ्टरशेव का उपयोग करें। यह बढ़िया एंटीसेप्टिक होता है। इसके एंटीबेक्टीरियल गुणों के कारण शेव के बाद इसे लगाने से संक्रमण का खतरा काफी कम हो जाता है। अपने शेविंग उपकरण किसी और को उपयोग करने के लिए न दें, न ही किसी और का इस्तेमाल किया हुआ खुद ही उपयोग में लें। रेज़र व ब्लेड आदि को समय-समय पर बदल लें व इन्हें नियमित रूप से साफ करें(डॉ. बीके चौरसिया,सेहत,नई दुनिया,दिसम्बर,चतुर्थांक 2011)।

4 टिप्‍पणियां:

  1. हां, अकसर ऐसा हो जाता है।
    उपयोगी जानकारी दी है आपने।

    उत्तर देंहटाएं
  2. सराहनीय प्रस्तुति

    जीवन के विभिन्न सरोकारों से जुड़ा नया ब्लॉग 'बेसुरम' और उसकी प्रथम पोस्ट 'दलितों की बारी कब आएगी राहुल ...' आपके स्वागत के लिए उत्सुक है। कृपा पूर्वक पधार कर उत्साह-वर्द्धन करें

    उत्तर देंहटाएं
  3. सराहनीय प्रस्तुति

    जीवन के विभिन्न सरोकारों से जुड़ा नया ब्लॉग 'बेसुरम' और उसकी प्रथम पोस्ट 'दलितों की बारी कब आएगी राहुल ...' आपके स्वागत के लिए उत्सुक है। कृपा पूर्वक पधार कर उत्साह-वर्द्धन करें

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।