गुरुवार, 5 जनवरी 2012

सर्वांगासन से लौट आती है बालों की रंगत

शहरी जीवन में एक उम्र के बाद बालों की सेहत भी बिगड़ने लगती है। कुछ लोगों के बाल सफेद होने लगते हैं तो कुछ लोग बालों के झड़ने की समस्या से परेशान रहने लगते हैं। लेकिन आसन और प्राणायाम की कुछ विधियां अपनाकर आप इस समस्या पर काबू पा सकते हैं। 

बालों का असमय सफेद होना, झड़ना तथा रूसी होना आजकल एक आम समस्या हो गई है। चिंता की बात ये है कि अब यह बच्चों में भी पायी जाने लगी है। आधुनिक चिकित्सा विज्ञान इस समस्या के मूल कारण पर गौर न कर इनके सतही कारणों जैसे-बालों का संक्रमण, बालों की उचित देखभाल न करना, पीड़ित व्यक्ति के कंधी, हेयर ब्रश, तौलिये या तकिये का प्रयोग करना, अधिक डाई या शैम्पू का प्रयोग करना आदि का इलाज करने का प्रयास करता है। किन्तु इसका मूल कारण आन्तरिक जैसे-सिर में रक्त संचार की गड़बड़ी, पाचन प्रणाली का गड़बड़ होना, असंतुलित भोजन, व्यायाम की कमी तथा अत्यधिक मानसिक तनाव है। योग उपयुक्त सभी आन्तरिक कारणों का समग्र एवं स्थायी समाधान प्रस्तुत करता है। इसके लिए हम एक खास यौगिक पैकेज दे रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप बालों की समस्या से मुक्ति पा सकते हैं। 

आसन 
आसनों के अभ्यास से सिर में रक्त संचार को बढ़ाने, पाचन प्रणाली को सशक्त करने, व्यायाम की कमी को पूरा करने तथा ग्रंथियों के स्नव को संतुलित करने में मदद मिलती है। इस हेतु प्रमुख आसन है-सर्वागासन, शीर्षासन, विपरीत करणी मुद्रा, हलासन, कर्णपीड़ासन, पादहस्तासन, पर्वतासन, मयूरासन आदि। सामान्य लोगों के लिए सर्वागासन सबसे अच्छा माना जाता है। 

सर्वागासन की विधि 
पीठ के बल जमीन पर सीधा लेट जाएं। अब दोनों पैरों को घुटने से मोड़कर पंजों को धीरे-धीरे जमीन से ऊपर उठाकर पैरों को सीधा करें। एक हल्के झटके के साथ नितम्ब तथा कमर को भी जमीन से यथासंभव ऊपर उठाएं। कमर को हाथों का सहारा देते हुए धड़ तथा पैर को गर्दन से 90 अंश पर रखें। इस अवस्था में आरामदायक अवधि तक झुककर वापस पूर्व स्थिति में आइए। प्रारम्भ 10-15 सेकेंड से करें और धीरे-धीरे इसे 2 से 5 मिनट तक ले जा सकते हैं। सर्वागासन के अभ्यास के पश्चात थोड़ी देर के लिए भुजंगासन या धनुरासन का अभ्यास अवश्य करें। 

सावधानी 
उच्च रक्तचाप, निम्न रक्त चाप, हृदय रोग तथा सर्वाइकल, स्पॉन्डिलाइटिस से पीड़ित व्यक्ति सर्वागासन का अभ्यास न करें। इन समस्याओं से पीड़ित लोग पाद हस्तासन का अभ्यास कर सकते हैं। 

पाद हस्तासन की विधि 
सीधे खड़े हो जाएं। दोनों पैरों के मध्य लगभग एक फिट का अन्तर कर दोनों हाथों को सिर से सीधा ऊपर उठाएं। तत्पश्चात धीरे-धीरे आगे की ओर झुकें। अंतिम स्थिति में हथेलियां जमीन पर तथा माथा घुटने को स्पर्श करते हैं। इस स्थिति में आरामदायक अवधि तक रुककर वापस पूर्व स्थिति में आएं। 

प्राणायाम 
पाचन प्रणाली सशक्त करने, रक्त शुद्ध करने तथा शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में तीव्र वृद्धि करने हेतु कपालभाति, भस्त्रिका, उज्जयी तथा नाड़ी शोधन प्राणायाम सर्वोत्तम हैं। 

सावधानी 
उच्च रक्त चाप, हृदय रोग, हाइपर थायराइटिज्म एवं हाइपर एसिडिटी से ग्रस्त व्यक्ति कपालभाति एवं भस्त्रिका का अभ्यास न करें। ऐसे व्यक्ति को उज्जयी एवं नाड़ी शोधन का अभ्यास करना चाहिए। प्रतिदिन 5 से 10 मिनट तक प्राणायाम का अभ्यास अवश्य करें। 

आहार 
सादा,सुपाच्य तथा पौष्टिक आहार लें। ककड़ी, गाजर, आंवला, पत्तागोभी, चुकंदर तथा पालक का सेवन करें। प्रोटीन युक्त आहार जैसे-दूध, दही, चना, सोयाबीन, राजमा तथा मीठे फल का पर्याप्त सेवन करें। रोज सुबह आधा कप गेहूं के पौधों का रस खाली पेट लेने से काफी फायदा मिलता है(कौशल कुमार,हिंदुस्तान,दिल्ली,21.12.11)।

21 टिप्‍पणियां:

  1. शुक्रवार भी आइये, रविकर चर्चाकार |

    सुन्दर प्रस्तुति पाइए, बार-बार आभार ||

    charchamanch.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  2. हमेशा की तरह बेहद उपयोगी !
    राधारमण जी, आपके इस प्रयास की जितनी भी सराहना की जाय कम है !
    आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  3. आजमा के देखते हैं ... आपकी जानकारी जलावाब है ..
    नए साल की शुभ कामनाएं ...

    उत्तर देंहटाएं
  4. कल 06/01/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  5. अच्छी जानकारी देता लेख
    आशा

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत ही अच्‍छी प्रस्‍तुति ।

    उत्तर देंहटाएं
  7. सबके लिए उपयोगी सुझाव हैं ..आभार

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत उपयोगी जानकारी हैं क्योंकि बालों की समस्याये आजकल अधिक है ... ग्रामीण और शेहरी दूनो दबके में.

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत ही उपयोगी आसन है यह।

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत उपयोगी लेख |
    सबसे अच्छी बात इसमें यह है की यह भी स्पष्ट किया गया है कि
    किन लोगों को यह आसान नहीं करना चाहिए |
    आशा

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत अच्छी जानकारी के लिये आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  12. अच्छी जानकारी...
    बाल कौन सफ़ेद करना चाहता है :-)
    आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  13. सुन्दर प्रस्तुति उपयोगी जानकारी।

    उत्तर देंहटाएं
  14. पोषण से जुडी है हमारे बालों की सेहत की नव्ज़ .आसन इसे चार चाँद लगा देतें हैं .अच्छा जानकारी से संसिक्त आलेख .

    उत्तर देंहटाएं
  15. उपयोगी जानकारी
    धन्यवाद
    गेहूं कहाँ से लाएं अपनी देसी गेहूं तो अमेरिका में नहीं मिलती

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहूत हि अच्छी ज्ञानवर्धक जानकारी के लिये आपका आभार...

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।