बुधवार, 28 दिसंबर 2011

दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल की नई मशीन से कैंसर की शुरू में ही होगी पहचान और वह भी मुफ़्त में

कैंसर रोगियों को बड़ी राहत मिलने वाली है। सफदरजंग अस्पताल में जल्द ही गामा कैमरा मशीन की सुविधा मिलेगी, वह भी बिल्कुल मुफ्त। यह सुविधा अभी एम्स में है, जिसके लिए मरीजों को मोटी राशि खर्च करनी पड़ती है। अनुमान है कि इसके लिए 50 हजार रुपए तक खर्च करने पड़ते हैं। गामा कैमरा मशीन की सहायता से शुरू में ही ब्रेन ट्यूमर के लक्षणों की पहचान संभव है, जिसके बाद डॉक्टर उसके इलाज के बारे में निर्णय ले सकेंगे। इससे मर्ज के शुरुआती चरण में ही पहचान करना संभव होगा। सुविधा मुफ्त होने से कैंसर की पहचान कराने की प्रक्रिया में आने वाले खर्च से भी राहत मिलेगी। गौरतलब है कि सफदरजंग अस्पताल को देश में सबसे ज्यादा बिस्तरों वाला अस्पताल माना जाता है। 

कैंसर की जांच के लिए मौजूदा तकनीक जैसे एक्स-रे या आइसोटोप स्कैन में जांच रिपोर्ट भी पूरी तरह सही न आने की शिकायत आती रही है। इससे इलाज में दिक्कत होती है। माना जा रहा है कि इस मशीन की सहायता से ज्यादा एक्युरेट रिपोर्ट मिल सकेगी। मशीन की लागत करीब 12 करोड़ रुपए होगी, जिसे जर्मनी से यहां मंगाया जाएगा। यह मशीन अस्पताल के न्यूक्लियर मेडिसिन विभाग में लगाई जाएगी। शुरू में मशीन की रोगियों पर परीक्षण के पहले डॉक्टरों को विशेषज्ञों द्वारा ट्रेनिंग भी दी जाएगी। मार्च तक अस्पताल में यह सुविधा शुरू हो जाएगी। अस्पताल के एमएस डॉ. एनके मोहंती ने बताया कि यह मशीन कैंसर सेल्स की सही पहचान कर सकेगी, जिससे पेशेंट को बेहतर सुविधाएं मिल सकेगी। 

जांच के लिए मशीन को पेशेंट के शरीर के विभिन्न हिस्से में मौजूद धमनियों के आस पास पॉइंट के सहारे रेडियोएक्टिव तारों से जोड़ा जाता है। इसके सहारे कैंसर का पता लगाया जाता है। इंडियन कैंसर सोसायटी के आंकड़े बताते हैं कि देश भर में कैंसर के हर साल 30 लाख मामले सामने आते हैं। ब्रेन ट्यूमर तो किसी भी उम्र में हो सकता है। यह बीमारी 40 से 70 साल के लोगों में ज्यादा देखी जाती है। पिछले दिनों 12 साल तक के बच्चों में ब्रेन ट्यूमर के कई केस देखे गए(सुशील कुमार त्रिपाठी,नवभारत टाइम्स,दिल्ली,28.12.11)।

4 टिप्‍पणियां:

  1. यह तो बडी अच्छी बात बताई आपने ।
    गरीबों के लिये अच्छा है ।

    हमारे ब्लॉग पर टिप्पणी देने के लिये धन्यवाद ।

    हिंदी ब्लॉग
    हिन्दी दुनिया ब्लॉग

    उत्तर देंहटाएं
  2. एक महत्वपूर्ण अपडेट .सफदरजंग जैसे खैराती (सरकारी अस्पताल )के लिए यह एक बड़ी सौगात है गरीबों के लिए लाटरी .

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत अच्छी खबर. बस यह मशीन चलती रहे और चलाने वाले भी उपलब्ध हों.

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।