गुरुवार, 17 नवंबर 2011

ऊनी कपड़ों से एलर्जी?

हर साल तकरीबन 10 से 15 फीसदी महिलाएं वुलन एलर्जी की प्रॉब्लम से पीड़ित रहती हैं। क्या है वुलन एलर्जी और इससे कैसे बचा जा सकता है, आइए जानते हैं : 

सर्दियों ने दस्तक दे दी है। इसके साथ ही तमाम वुलन प्रॉडक्ट्स और सर्दियों से बचाव के लिए पहने जाने वाले कपड़े वॉर्डरोब से बाहर निकलने लगे हैं। सर्दियों में वुलन ड्रेसेज पहनने का अपना मजा है, लेकिन यह सीजन कई लोगों के लिए तब तकलीफदेह हो जाता है, जब कई लोगों को इनको पहनते ही स्किन एलर्जी हो जाती है। हर साल तकरीबन 10 से 15 फीसदी महिलाएं इस प्रॉब्लम से पीडि़त रहती हैं। 

कोल्ड नहीं एलर्जी  
वुलन पहनते ही अगर आपके चेहरे पर रेडनेस, स्वैलिंग, स्केली (पपड़ीदार), नाक बंद होना, स्किन पर खुजली और रैशेज आना जैसी दिक्कतें आ जाती हैं, तो समझ जाइए कि आपको वुलन एलर्जी है। ये कई दिन तक स्किन पर बने रहते हैं और जैसे ही एक बार ठीक होने लगते हैं, फिर से बॉडी पर आ जाते हैं। आमतौर पर यह प्रॉब्लम हाथों और पैरों में अधिक देखने को मिलती है। डॉक्टर्स के मुताबिक, वुलन एलर्जी होने की मुख्य वजह ड्राई स्किन है। डॉक्टर अजय रतूड़ी कहते हैं, 'आमतौर पर वुल और स्किन हेयर के बीच होने वाले खिंचाव से यह प्रॉब्लम आती है। उस जगह की स्किन रेड हो जाती है और छोटे- छोटे दाने निकलने लगते हैं, जिनमें लगातार खुजली होती रहती है।' वहीं डॉ. प्रवीन श्रीवास्तव का मानना है कि विंटर में वुलन एलर्जी होने की एक वजह स्किन का वुलन के डायरेक्टर कॉन्टैक्ट में आना भी है। इससे अर्टिकेरिया की प्रॉब्लम होती है। इसमें अफेक्टेड एरिया की स्किन रेड हो जाती है और जलन के साथ बहुत ज्यादा खुजली होती है। वहीं कुछ लोगों की वुलन कपड़े पहनते ही नाक बहने लगती है और आंखों में हमेशा पानी बना रहता है। वे सोचते हैं कि कोल्ड हो गया है, जबकि यह स्किन एलर्जी की वजह से होता है। 

जब स्किन हो सेंसिटिव  
डॉक्टर्स के मुताबिक , यह एलर्जी आमतौर पर उन्हीं लोगों को होती है , जिनकी स्किन सेंसिटिव होती है। ज्यादातर महिलाओं , बच्चों और बूढ़ों को यह प्रॉब्लम होती है। दूसरी वजह स्किन का ड्राई होना है। अगर स्किन सेंसिटिव है , तो चलेगा। लेकिन सेंसिटिव के साथ ड्राईनेस भी रहेगी , तो इस प्रॉब्लम के होने के चांस बढ़ जाते हैं। 

क्या हैं उपाय  
डॉक्टर अजय कहते हैं , वुलन एलर्जी का कोई परमानेंट इलाज नहीं है। हां , थोड़े समय के लिए दवाइयों से राहत मिल जाती है , लेकिन असर खत्म होते ही वह फिर से हो जाती है। जिन्हें वुलन एलर्जी की समस्या ज्यादा होती है , वो फुल स्लीव्स के कॉटन इनर वियर पहनें। इससे स्किन वुलन के डायरेक्टर टच में नहीं आएगी और एलर्जी से बचा जा सकेगा। ऐसे लोगों को बाकी लोगों के बजाय ज्यादा गर्म कपड़े पहनने की भी जरूरत होती है। वैसे, हम आपको बता दें कि हर वुलन क्लोद एलर्जी की वजह नहीं बनता। कुछ ही वुल ऐसी होती हैं। इसलिए अगर आप यह समझ लें कि कौन सी वुल आपको दिक्कत कर रही है , तो आप इस दिक्कत से बचे रह सकते हैं। इसके अलावा , वुलन पहनने से पहले स्किन पर कोल्ड क्रीम मल लें। 

एक्सपर्ट्स की राय  
ब्यूटी एक्सपर्ट्स का कहना है कि वुलन एलर्जी से बचने के लिए मॉइश्चराइजर का यूज रेग्युलर करना चाहिए। ब्यूटीशियन मंजू रावत कहती हैं कि नहाने के बाद पूरी बॉडी में मॉइश्चराइजर लगाने से काफी राहत रहती है। साथ ही रात को सोने से पहले भी अच्छी तरह मॉइश्चराइज लगाकर सोएं और मॉइश्चराइजर युक्त साबुन का ही इस्तेमाल करें। - एलर्जी वाली स्किन पर ऑलिव ऑयल की मसाज बेहद फायदेमंद होती है। - मॉइश्चराइजर युक्त साबुन का इस्तेमाल करें। - खूब फल व सब्जियां खाएं। - एक विटामिन ई युक्त नाइट क्रीम लें और उससे अपनी बॉडी और फेस को मॉइश्चराइज करें। - बहुत गर्म पानी से न नहाएं। - ड्राई स्किन के लिए ग्लिसरीन और गुलाब जल मिलाकर मॉइश्चराइजर के तौर पर लगा सकती हैं(सरोज धूलिया,नवभारत टाइम्स,दिल्ली,16.11.11)।



8 टिप्‍पणियां:

  1. bhtrin gyaanvardhak or praasngik jankari ke liyen dhnvyvaad ...akhtar khan akela kota rajsthan

    उत्तर देंहटाएं
  2. वाकई सर्दी ने दस्तक दी है
    मैंने भी अपने वार्डरोब से गर्म कपडे निकाले है !
    उनी कपडे अगर अच्छे क्वालिटी के हो तो एलर्जी की
    समस्या कुछ कम हो सकती है! अक्सर इस मौसम में रोड साइड में
    बिकने वाले गर्म कपडे उंची क्वालिटी के नहीं होते !
    बड़े काम की जानकारी है !

    उत्तर देंहटाएं
  3. सर्दी की दस्तक में ये आम समस्या है ... बहुत काम की जानकारी दी है आपने ...

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत अच्छी जानकारी दी है।

    उत्तर देंहटाएं
  5. वाह ...उपयोगी जानकारी

    उत्तर देंहटाएं
  6. aapke blog par aapki tippani ke madhyam se aana hua.sarve pratham to tippani ke liye aabhar doosre itne achche sujhaav va jaankari vaali post ke liye shubhkamnayen.

    उत्तर देंहटाएं
  7. जानकारी पूर्ण पोस्ट....शुक्रिया आपका

    नीरज

    उत्तर देंहटाएं
  8. उपयोगी/ अच्छी जानकारी दी.

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।