सोमवार, 29 अगस्त 2011

कमर दर्द है तो घर में है इलाज

महिलाओं में कमर दर्द एक आम समस्या हो गई है। खासकर कामकाजी महिलाएं तो इस समस्या के साथ जीने की आदी दिखती हैं। जब इससे बचने और उससे मुक्ति के उपाय बेहद आसान हैं तो क्यों इस समस्या से जूझा जाए। आमतौर पर देखा जाता है कि कमर दर्द की समस्या से महिलाएं ज्यादा रूबरू होती हैं। चाहे कामकाजी महिला हो या घरेलू, दोनों अक्सर इस समस्या की चपेट में आ जाती हैं। हो भी क्यों न, सुबह से लेकर रात, जब तक वह सो नहीं जाती, तब तक उनकी भागमभाग लगी रहती है। कभी बच्चों के लिए, कभी पति के लिए, तो कभी सास-ससुर के लिए। महिलाओं के पास सबके लिए समय होता है, लेकिन अपने लिए फुरसत निकाल पाना मुश्किल होता है। अगर वह कामकाजी है तो उसे घर और बाहर दोहरी जिम्मेदारी निभानी पड़ती है। नतीजा कमर दर्द। इसके बाद शुरू हो जाता है डॉक्टरों के पास चक्कर लगाना। रुटीन में थोड़ा पर्वितन कर और खानपान में सुधार लाकर घर पर ही कमर दर्द से राहत पायी जा सकती है। आइये जानें, कमर दर्द से बचने के घरेलू उपाय:

सब्जी काटते समय या फिर कुछ बीनते समय झुकने के बजाए रसोई की स्लैब या मेज पर सामान रखकर स्टूल पर बैठकर काम निपटाना चाहिए, जिससे कमर पर कम भार पड़े और कम-से-कम मूवमेंट हो। कपड़े धोते समय महिलाओं को विशेष सावधानी बरतने की जरूरत होती है। सामान्यत: महिलाएं फट्टे पर बैठकर और कमर छुकाकर साबुन लगती हैं, जो कमर दर्द का एक बड़ा कारण होता है। बराबर ऊंचाई की चौकी या अन्य चीज पर कपड़े रखकर साबुन लगाना चाहिए, जिससे कमर को कम-से-कम झुकाना पड़ेगा। भरी बाल्टी या अन्य भारी समान उठाते समय कमर झुकी नहीं होनी चाहिए। ऐसी स्थितियों में घुटनों को मोड़कर वजन उठाना चाहिए। घर की सफाई करते समय महिलाएं झुककर झाड़ लगाती हैं, जो कमर दर्द को दावत देना है। झाड़ और पोछा बैठकर इस तरह लगाना चाहिए, जिससे कमर पर झुकाव न पड़े। 

घर में टीवी देखते समय या फिर ऑफिस में काम करते समय अपनी पीठ कुर्सी से टिकाकर सीधे तनकर बैठने की आदत डालनी चाहिए। लम्बे समय तक एक एक्शन में न बैठें। थोड़ी-थोड़ी देर में एक्शन बदलते रहना चाहिए। सिलाई, कढ़ाई करते या फिर ऐसा अन्य काम करते समय झुकने के बजाए मेज पर रखकर काम करना चाहिए। स्टैंडिंग किचन में ही खाना बनाना चाहिए। जमीन पर बैठकर खाना बनाते समय कमर पर अधिक झुकाव पड़ता है, इसलिए उससे बचना चाहिए। सोते समय हार्ड बेड पर लेटना चाहिए। गद्दा एक इंच मोटा होना चाहिए। न इससे अधिक मोटा हो और न ही इससे पतला होना चाहिए। अगर मोटापे की वजह से कमर दर्द हो रहा हो तो खानपान संतुलित करना चाहिए। प्रतिदिन 6 से 8 घंटे की नींद जरूर लेनी चाहिए(रिचा पांडेय,हिंदुस्तान,दिल्ली,24.8.11)।

9 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत उपयोगी सलाह दी है आपने ,अभी तो खैर ये समस्या नहीं है लेकिन आगे के लिए आपकी सलाह पर जरुर अमल करेंगे ..

    उत्तर देंहटाएं
  2. खुद भुक्तभोगी हूं। इसलिए मालूम है कि साधारण सी नज़र आने वाली ये सावधानियां कितने महत्व की हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  3. पत्नी को पढ़ा देंगे शायद कुछ फायदा हो जाये ....

    उत्तर देंहटाएं
  4. हा छोटी छोटी ये आदते कई परेशानियों से छुटकारा दिला सकती है अच्छी जानकारी दी धन्यवाद |

    उत्तर देंहटाएं
  5. वास्तव में उपचार से बचाव बेहतर है और उठने-बैठने व काम करने के सही तरीके अपनाकर बहुत हद तक ये बचाव किया जा सकता है ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  7. छोटी-छोटी बड़ी बातें..........

    उत्तर देंहटाएं
  8. bahut upyogi jankari mahilaon ke liye aabhar aapka ....

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।