रविवार, 29 मई 2011

कैंसर पीड़ितों को पंजाब सरकार देगी डेढ़ लाख

पंजाब में अब हर कैंसर पीड़ित को इलाज के लिए सरकार से डेढ़ लाख रुपये की मदद मिलेगी। इसके लिए मरीज को एक फार्म के साथ अपने मेडिकल दस्तावेज लगाकर सिविल सर्जन को देना होगा। यहां से फाइल डीसी के माध्यम से सेहत मंत्रालय पहुंचेगी। जिस अस्पताल में मरीज का इलाज चल रहा होगा, उसे सीधे डेढ़ लाख रुपये की पेमेंट कर दी जाएगी।

सेहतमंत्री सतपाल गोसाईं ने शुक्रवार को लुधियाना सिविल अस्पताल के दौरे के वक्त यह ऐलान किया। उन्होंने कहा कि इसकी नोटिफिकेशन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई। गोसाईं ने कहा कि आम लोगों की सेहत विभाग से संबंधित शिकायतें सुनने के लिए हेल्पलाइन शुरू की जा रही है, जो चौबीसों घंटे चालू रहेगी। यहां मिलने वाली शिकायतों को एक टीम बनाकर हल किया जाएगा। लोग खुद उनके मोबाइल पर भी शिकायत कर सकते हैं। अब तक उनको चार शिकायतें मिली, जिसे हल किया जा चुका है।

उन्होंने कहा कि लुधियाना के सिविल अस्पताल को अपग्रेड कर मॉडल अस्पताल बनाया जाएगा। अस्पताल में चोरी की घटनाओं के मामले में जब पूछा गया कि अस्पताल परिसर में पता नहीं लगता कि कौन मुलाजिम है और कौन संदिग्ध तो गोसाईं ने कर्मियों को पहचान पत्र लगाने के निर्देश दिए। एंटी रैबीज इंजेक्शनों की उपलब्धता न होने पर गोसाईं ने कहा कि प्रिंसिपल सेक्रेटरी (हेल्थ) को निर्देश दे दिए हैं। दो करोड़ में जल्द ही इंजेक्शन खरीदे जा रहे हैं(दैनिक भास्कर,लुधियाना,28.5.11)।

4 टिप्‍पणियां:

  1. चलिए, कुछ तो राहत मिलेगी उन्‍हें। वैसे यह रकम कैंसर पीडितों के लिए ऊंट के मुंह में जीरा ही है।

    ---------
    गुडिया रानी हुई सयानी...
    सीधे सच्‍चे लोग सदा दिल में उतर जाते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  2. कुछ नहीं देना चाहिये उन को जो नशा खोरी मे कैंसर ग्रसित हुए हैं

    उत्तर देंहटाएं
  3. अच्छा कदम है सरकार का । सुविधाएँ भी मुहैया कराएँ तो और भी बेहतर होगा ।

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।