मंगलवार, 12 अप्रैल 2011

लौकी-करैले के जूस के बारे में बाबा रामदेव के दावों को परखेगा आईसीएमआर

खून में शुगर की मात्रा को काबू में रखने के लिए योग गुरु बाबा रामदेव द्वारा सुझाए गए लौकी और करेले का जूस क्या वाकई असरदार होता है? अब इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) इस बात की जांच करेगा कि क्या लौकी और करेले के रस से ब्लड शुगर के स्तर में कमी आती है। इस रिसर्च के लिए आईसीएमआर ने एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया है। यह समिति इस बात का पता लगाएगी कि क्या लौकी का जूस पीना स्वास्थ्य के लिए सुरक्षित है।

आईसीएमआर से कई डॉक्टरों ने यह शिकायत की है कि लौकी का जूस पीने से सेहत पर बुरा असर पड़ता है। गौरतलब है कि गुड़गांव और दिल्ली में पिछले साल लौकी का जूस पीने से दो लोगों की मौत हो गई थी।

पिछले साल काउंसिल फॉर साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च के 59 साल के उप सचिव की मौत लौकी का जूस पीने से हुई थी। उप सचिव की मौत लौकी और करेले के एक गिलास जूस पीने से हुई थी। वहीं, जून, 2010 में मधुमेह से पीड़ित सुशील कुमार सक्सेना की एक अस्पताल में खून की उलटी करने के बाद मौत हो गई थी। उन्होंने भी लौकी का जूस पिया था(दैनिक भास्कर,दिल्ली,12.4.11)।

8 टिप्‍पणियां:

  1. लौकी का जूस कैसे बनाया गया है इसका भी असर देखना होगा |
    आशा

    उत्तर देंहटाएं
  2. आई सी एम् आर जब अच्छी तरह से परखेगा तो समझ जाएगा कि आयुर्वैधिक औषधियाँ कितनी प्रभावी हैं.
    अन्य कंपनियों की औषधियों के मुकाबले दिव्य-फार्मेसी की औषधियाँ कमाल का असर दिखाती हैं.
    मेरी माता जी, पिता जी, पत्नी ने उनकी औषधियों का सेवन किया तो तुरंत लाभ हुआ.
    बिना वजह कोई इतने कम समय में बुलंदियों को नहीं छूता.
    हम इंतज़ार करेंगे जाँच के परिणामों की. यही जाँच सभी तरह की मेडिसिन पर की जानी चाहिए.
    किसी एक से द्वेष रखकर उसके पीछे नहीं पड़ना चाहिए.

    उत्तर देंहटाएं
  3. रोग की स्थिति को बिना जाने अगर करेले का जूस पी लिया जाता है तो अवश्य नुकसान होता है.
    मेरे बड़े भाईसाहब ने करेले निचोड़े जाते समय अचानक एक गिलास उसका रस पी लिया तो गश खाकर गिर पड़े.
    चीनी का घोल पिलाया गया. तब कंट्रोल हुआ.
    शुगर की एक निश्चित मात्रा शरीर में रहना जरूरत है. उससे कम होते ही मुश्किल में आ जाते हैं हम.

    उत्तर देंहटाएं
  4. ऐलोपैथिक दवाइयों के इतने अधिक साइड-इफेक्ट होते हैं, अगर पढ़ लिये जायें तो कोई भी सेवन करने से पहले हजार बार सोचेगा..

    उत्तर देंहटाएं
  5. प्रतुल जी और भारतीय नागरिक के विचारों से शब्दशः सहमत हूँ...

    उत्तर देंहटाएं
  6. परिणामों का इंतज़ार रहेगा.
    परिणाम की खबर मिलते ही बताइयेगा.
    और आप का ये जनसेवा के लिए प्रयास सराहनीय है

    उत्तर देंहटाएं
  7. जांच परिणामों का इन्तजार करना चाहिये.

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।