मंगलवार, 4 जनवरी 2011

डीटॉक्सीफिकेशन

शरीर को सेहतमंद रखने के लिए डाइट कंट्रोल, पर्याप्त पानी, आराम और ताजा हवा आवश्यक है। इसमें फिजिकल, मानसिक और इमोशनल फैक्टर काम करते हैं। इसके लिए जरूरी है डिटॉक्सीफिकेशन। यह आपके शरीर के लिए बसंत के मौसम में घर की सफाई जैसा ही है। यानी शरीर को चुस्त-दुरूस्त और तरो-ताजा रखने की प्रक्रिया है। जब आप मानसिक तनाव और शरीर के विकारों से मुक्त हो जाते हैं, तो शरीर में ऊर्जा का संचार हो जाता है।

डिटॉक्सीफिकेशन के फायदे
- त्वचा की रंगत में निखार
- बेहतर तंत्रिका तंत्र
- पाचन तंत्र में सुधार
- शारीरिक ऊर्जा में बढ़ोतरी
- मेटाबॉलिज्म के फंक्शन में सुधार

क्या है इसकी प्रक्रिया : विकार दूर करने के कई तरीके होते हैं जैसे- व्यायाम, डाइट कंट्रोल, थेरेपी, सांस लेने वाले तरीके, मेडिटेशन और रिलैक्सेशन।
व्यायाम : योग, सांस लेने वाली तकनीक, मेटाबॉलिज्म को मजबूत करने वाली प्रक्रिया है। इससे शरीर स्वस्थ रहता है।
सकारात्मक सोच : अपनी सोच सकारात्मक रखें। इससे दिमाग तरोताजा रहता है और चुनौतियों को स्वीकार करने में सक्षम होता है।
पूरी तरह नींद लें : अपनी सहूलियत के मुताबिक पर्याप्त नींद लें। आपकी नींद छह से दस घंटे तक की हो सकती है।
तनाव में न रहें : आप किताबें पढ़कर, संगीत सुनकर, तैराकी कर खुद को तनावमुक्त रख सकते हैं। खुद को रिलैक्स रखें।

पर्याप्त पानी पीएं : शरीर की कोशिकाओं और अंगों को सुचारू रूप से काम करने के लिए पर्याप्त पानी पीएं। यह शरीर के तापमान को नियंत्रित रखता है। साथ ही पाचन तंत्र मजबूत करता है। 
थेरेपी का रोल : मसाज थेरेपी महज त्वचा के लिए ही लाभकारी नहीं होती है, वह मांसपेशियों शरीर के दूसरे हिस्सों के लिए भी लाभदायक होती है। 
डीटॉक्स डाइट : डाइट ऐसी होनी चाहिए जो आसानी से पच सकें जैसे फल, जूस, सब्जियां और हर्बल चाय। 
- फाइबर युक्त खाना खाएं।
- लाल मांस, वसा और शक्कर कम लें। 
- फ्रूट जूस, सब्जियों के जूस-सूप पीएं।
- धूम्रपान, एल्कोहल, कॉफी और अन्य चीजों से परहेज करें(हिंदुस्तान,दिल्ली,3.1.2011)।

6 टिप्‍पणियां:

  1. पांच लाख से भी जियादा लोग फायदा उठा चुके हैं
    प्यारे मालिक के ये दो नाम हैं जो कोई भी इनको सच्चे दिल से 100 बार पढेगा।
    मालिक उसको हर परेशानी से छुटकारा देगा और अपना सच्चा रास्ता
    दिखा कर रहेगा। वो दो नाम यह हैं।
    या हादी
    (ऐ सच्चा रास्ता दिखाने वाले)

    या रहीम
    (ऐ हर परेशानी में दया करने वाले)

    आइये हमारे ब्लॉग पर और पढ़िए एक छोटी सी पुस्तक
    {आप की अमानत आपकी सेवा में}
    इस पुस्तक को पढ़ कर
    पांच लाख से भी जियादा लोग
    फायदा उठा चुके हैं ब्लॉग का पता है aapkiamanat.blogspotcom

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुतसुंदर जानकारी ....आपको और परिवार में सभी को नव वर्ष मंगलमय हो ...

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।