शुक्रवार, 1 अक्तूबर 2010

कहीं आप मोबाइल मैनिया की शिकार तो नहीं?

भारत में हाल के सालों में मोबाइल फोन्स की संख्या में आश्चर्यजक रूप से वृद्धि हुई है। कामकाजी महिलाओं के पास मोबाइल फोन ज्यादा हैं। इस तादात में बढ़ रही मोबाइल फोन की संख्या क्या उनकी जरूरत को दर्शाती है ? या उनके मोबाइल मैनिया के शिकार होने को? आप मोबाइल मैनिया के शिकार हैं या नहीं, अगर आपको यह पता करना हो तो आप इस क्विज में हिस्सा लें और खुद ही परख लें-
१ आपका मोबाइल ऑन रहता हैः क. २४ घंटे। ख. सुबह ८ से रात्रि १० बजे तक । ग . सिर्फ वर्किंग ऑवर में। २. आप अपनी अंतरंग सहेलियों को उनके जन्मदिन, शादी की सालगिरह, न्यू ईयर तथा त्योहारों आदि में - क. शुभकामना देने के लिए उनके घर जाती हैं। ख. उन्हें ग्रीटिंग कार्ड और हाथ से लिखा खत भेजती हैं। ग. एसएमएस के जरिए शुभकामनाएँ देती हैं। ३. आप रोज के समाचार-पत्रों को जानने के लिए- क. अखबार पढ़ती हैं। ख. टीवी समाचार देखती हैं। ग. जब मन हुआ मोबाइल में हेडलाइंस देख लेती हैं। ४. समय जानने के लिए आप- क. कलाई घड़ी पहनती हैं। ख. दीवार घड़ी देखती हैं। ग. जब जरूरत हुई मोबाइल स्क्रीन देख लेती हैं। ५. छोटे-मोटे हिसाब- क. रफ कागज में करती हैं। ख. मुँहजुबानी कर लेती हैं। ग. मोबाइल कैलकुलेटर का उपयोग करती हैं। ६. दफ्तर का सफर- क. पसंदीदा पत्रिका पढ़ते हुए पूरा करती हैं। ख. ईयर फोन लगाकर मोबाइल से गाने सुनती हैं। ग. सहयात्रियों से गपशप करती हैं। ७. बस से उतरते समय, सड़क पार करते समय भी मोबाइल बजे तो- क. तुरंत रिसीव करती हैं। ख. पहले सड़क पार कर लेती हैं फिर सुनती हैं। ग. रास्ते में मोबाइल ऑफ रखती हैं। निष्कर्ष- प्रत्येक सवाल के लिए दिए गए जवाब के तीन विकल्पों में से आपने यदि ईमानदारी से अपने पर लागू होने वाले विकल्पों पर टिक किया है तो फिर ये निष्कर्ष आप पर लागू होते हैं। ३०-३५ : अगर आप लागू होने वाले विकल्पों के अंकों का जोड़ ३० से ३५ के बीच कहीं टिकता है तो आप में मोबाइल मैनिया का दूर-दूर तक कोई लक्षण नहीं है। निःसंदेह आप मोबाइल इस्तेमाल करने के मामले में स्मार्ट हैं। १४-२१ : अगर आप पर लागू होने वाले विकल्पों का जोड़ १४ से २१ अंकों के बीच कहीं हो तो आपके लिए समझिए यह पीली बत्ती है। सावधान हो जाइए क्योंकि आप धीरे-धीरे जिस दिशा में बढ़ रही हैं वह मोबाइल मैनिया की तरफ जाता है। ०-१० :सावधान! अगर आप लागू होने वाले विकल्पों का अंकीय योग यह है तो बिना किसी शक के यह समझ लीजिए कि आप मोबाइल मैनिया की गिरफ्त में आ चुकी हैं। अतः जितनी जल्दी हो सके इससे बाहर आइए वरना आप मोबाइल सिंड्रोम का शिकार हो सकती हैं। (पिंकी,नायिका,नई दुनिया,1.10.2010) टिप्पणीःयद्यपि यह आलेख महिलाओं को संबोधित है,निस्संदेह, पुरुष भी यहां अपना स्कोर जांच सकते हैं।

1 टिप्पणी:

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।