मंगलवार, 24 अगस्त 2010

कैंसर की चिंता छोड़िए, हरी गोभी है न!

अगर आप हरी गोभी (ब्रोकली) खाते हैं तो कैंसर और हृदय रोग की चिंता छोड़ ही दीजिए क्योंकि वैज्ञानिकों ने इस सब्जी में मौजूद ऐसे तत्वों का पता लगाया है जो इन बीमारियों के खतरे को काफी कम कर देते हैं। इन्हीं औषधीय गुणों के कारण यूरोप में उगाई जाने वाली इस गोभी की तीन प्रजातियों को देश में भी बडे़ पैमाने पर उगाने की तैयारी है। कम तापमान में तैयार होने वाली इसकी फसल का पूर्वी उत्तर प्रदेश में परीक्षण काफी सफल रहा है। भागदौड़ भरी दिनचर्या और फास्ट फूड की आदतों ने हमें बीमारियों की सौगात दी है। मिलावटी खाद्य पदार्थो और रसायनों के अधिकाधिक प्रयोग से लोग कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी की चपेट में आ रहे हैं लेकिन अपने खानपान की आदतों में बदलाव कर हम ऐसी जानलेवा बीमारियों के खतरों से बच सकते हैं। यूरोप में बहुतायत से उगाई जाने वाली ब्रोकली (हरी गोभी) में वैज्ञानिकों ने ऐसे तत्वों की खोज की है जो कैंसर व हृदय रोग की संभावना को काफी कम कर देते हैं। इलाहाबाद एग्रीकल्चर इंस्टीटयूट के हॉर्टिकल्चर विभाग में पिछले पांच वर्षो से चल रहे शोध के दौरान यह नतीजे सामने आए हैं। विभाग के डीन डा. वीएम प्रसाद के मुताबिक शोध के दौरान हरी गोभी में एंटी ऑक्सीडेंट, सल्फर कम्पाउंड युक्त ग्लूकोसाइनीलेट और पाइरोकेमिकल्स की प्रचुर मात्रा पायी गई। पाइरोकेमिकल्स के कारण खून के अंदर सीरम कोलेस्ट्राल की मात्रा नियंत्रित रहती है। लो डेन्सिटी कोलेस्ट्राल (एलडीसी) ही उम्र बढ़ने के साथ व्यक्ति में हृदय रोग, ब्लड प्रेशर और कोरोनरी डिजीज का कारक बनता है। ग्लूकोसाइनोकेट में मृत कोशिकाओं को पुनर्जीवित करने की क्षमता भी है। कैंसर में कोशिकाओं पर ही हमला होता है इसलिए यह कैंसर पीडि़त व्यक्ति के लिए भी वरदान है। हरी गोभी की 100 ग्राम मात्रा में यह 72 से 212 मिलीग्राम तक मौजूद होता है। हालांकि देश में इस गोभी को अब तक सीमित पैमाने पर ही उगाया जाता रहा है लेकिन इसके औषधीय गुणों के चलते अब इसे बड़े पैमाने पर उगाने की तैयारी चल रही है। इंस्टीटयूट के फार्म पर इस माह के अंत तक इसकी फियेस्टा प्रजाति की रोपाई की जाएगी। अन्य प्रजातियों ऊषा केटीएस-1 व पालम समृद्धि को पूर्वी उत्तर प्रदेश के तापमान के मुताबिक पहले ही परखा जा चुका है(दैनिक जागरण,नैनी,24.8.2010)।

6 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत अच्छी जानकारी दी है आपने।
    मैं तो अब नियमित सेवन करूंगा इसका।

    उत्तर देंहटाएं
  2. जांची परखी जानकारी -शुक्रिया !

    उत्तर देंहटाएं
  3. लवली.....मेरी पंसदीदा सब्जी....

    उत्तर देंहटाएं
  4. आपने चित्र पत्तागोभी का लगाया है और वर्णन ब्रोकली का किया है। अब तो ब्रोकली खानी पड़ेगी।

    उत्तर देंहटाएं
  5. aapne photo cabbage ka lagaya hai. parantu barnan brokli ka kiya hai. aakhir phayademand kya hai?

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।