रविवार, 26 फ़रवरी 2012

चीनी और नमक दोनों खाएं कम-कम

चीनी और नमक हमारे भोजन का जायका तो बढ़ाते हैं, लेकिन इनकी मात्र ज्यादा हो जाए तो सेहत का मिजाज बुरी तरह बिगाड़ भी सकते हैं। बेहतर स्वास्थ्य के लिए खाने में चीनी और नमक की मात्र कम करना क्यों जरूरी है, बता रहे हैं सत्य सिंधु: 

आप दूध के गिलास में या चाय के कप में कई चम्मच चीनी उड़ेल देती हैं? आप सलाद और दही में अतिरिक्त नमक डालकर खाती हैं? क्या आपको पसीना आने, प्यास लगने, दिल घबराने आदि की समस्या रहती है? तो अब सावधान हो जाइए। ये समस्याएं आपके भोजन में नमक और चीनी की मात्र अधिक होने के कारण भी हो सकती हैं। कितना नमक है जरूरी नमक आपको चुटकी भर से ज्यादा बिल्कुल भी नहीं लेना चाहिए। डॉ. शर्मा के अनुसार, सेहतमंद रहने के लिए दो ग्राम यानी एक चाय वाला चम्मच के तीसरे हिस्से के बराबर नमक लेना पर्याप्त है। अगर आप स्वस्थ हैं तो आपका शरीर अतिरिक्त नमक को शरीर से बाहर निकाल देगा। अगर किडनी कमजोर हो या डायबिटिज हो या आप कोई ऐसी दवा ले रही हों जो शरीर के आंतरिक संतुलन को ठीक रखने वाली हो तो अतिरिक्त नमक का शरीर से बाहर निकलना मुश्किल हो जाता है। इससे उच्च रक्तचाप से लेकर किडनी फेलियर तक की गिरफ्त में आ सकती हैं। नमक के प्राकृतिक स्नोतों पर विश्वास करें। नमक यानी सोडियम क्लोराइड अनाज, सब्जियों, दूध, फल आदि सभी चीजों में मौजूद है। डॉ. गोगिया भी आगाह करते हैं कि अगर आप उच्च रक्तचाप और हार्ट अटैक के अंजाम को जानती हैं, तो अपने भोजन में नमक को तुरंत नियंत्रित करें। 

कितनी खाएं चीनी 
चीनी हमारे शरीर को काबरेहाइड्रेट और ग्लूकोज उपलब्ध कराती है, लेकिन डॉक्टर कहते हैं कि हमारे शरीर के लिए जरूरी कैलोरी में चीनी से मिलने वाली कैलोरी की मात्र 10 प्रतिशत से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। महिलाओं को रोजाना औसतन 1800 कैलोरी की जरूरत पड़ती है। चीनी आपको 180 कैलोरी से ज्यादा नहीं लेनी चाहिए। सर गंगाराम अस्पताल के फिजिशियन डॉ. अतुल गोगिया बताते हैं कि एक चम्मच चीनी में लगभग 50 कैलोरी होती है। ऐसे में सेहतमंद रहने और चीनी के कारण होने वाली बीमारियों से दूर रहने के लिए आपके भोजन में चार चम्मच से ज्यादा चीनी बिल्कुल भी नहीं होनी चाहिए। 

अगर आप सोच रही हैं कि क्या इससे कम चीनी को लिया जा सकता है? जवाब है हां। आप चीनी न लें, तो भी आपको कोई नुकसान नहीं होगा, क्योंकि चीनी में उपलब्ध तमाम पोषक तत्व आपके भोजन में शामिल होते हैं। अगर आप रोजाना 8-10 चम्मच से ज्यादा चीनी लेती हैं, तो सावधान हो जाएं। जानी-मानी हेल्थ एक्सपर्ट डॉ. शिखा शर्मा बताती हैं कि अगर आप ऊपर से चीनी लेती हैं तो मोटापा, सूजन, उत्तेजना और दांत में तकलीफ हो सकती है। आप डायबिटिज की रोगी हैं तो मुश्किल बहुत अधिक बढ़ जाएगी। 

अगर आपकी उम्र 35 साल तक है और आप व्यायाम करती हैं तो 4-5 चम्मच तक चीनी नुकसान नहीं पहुंचाएगी। इसके बाद अपनी डाइट में चीनी की मात्र जरूर कम करें(हिन्दुस्तान,दिल्ली,२३.२.१२)।

13 टिप्‍पणियां:

  1. कठिन है..मगर सलाह मानने में ही भलाई है शायद :-)
    शुक्रिया .

    उत्तर देंहटाएं
  2. सही कहा । चीनी , नमक , घी , केल्रिज -सब कम रखना चाहिए ।

    उत्तर देंहटाएं
  3. बेहतीन जानकारी । बहुत ही सही सलाह और मार्गदर्शन करती पोस्ट राधा रमण जी । आभार

    उत्तर देंहटाएं
  4. घी-तेल भी डा साहब ने बताकर पूर्ण कर दिया.

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत सार्थक जानकारी है आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  6. सच्ची, सचेतक पोस्ट...
    सादर आभार...

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत सुन्दर प्रस्तुति
    आपकी इस सुन्दर प्रविष्टि की चर्चा कल दिनांक 27-02-2012 को सोमवारीय चर्चामंच पर भी होगी। सूचनार्थ

    उत्तर देंहटाएं
  8. बढ़िया जानकारी के लिए आभार ....

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।