सोमवार, 5 दिसंबर 2011

कितने स्वस्थ हैं आपके बाल?

आपको बालों का असमय पकना, झड़ना, डैंड्रफ जैसी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। तनाव, भागदौड़, अनियमित खान-पान, प्रदूषण आदि कई बार हमारे बालों को एकदम बेजान बना देते हैं। इसका परिणाम न केवल बालों को बल्कि हमारे सिर की त्वचा को भी भुगतना पड़ता है। 

सिर की त्वचा में खुजली की समस्या से आज दुनियाभर में सभी उम्र के लोग परेशान हैं। त्वचा रोग विशेषज्ञ प्रीतम सिंह के अनुसार, ‘मानसिक तनाव, थकान, असंतुलित आहार, पोषक तत्वों की कमी और सबसे अहम संक्रमण व गंदगी सिर की त्वचा में खुजली या बीमारी होने के प्रमुख कारण हैं। आज लगभग सभी लोग प्रदूषण भरे वातावरण में रहने को मजबूर हैं। इस कारण अन्य बीमारियों के साथ बालों और त्वचा के रोगों से शायद ही कोई बच पाता है। वैसे तो बालों संबंधी कई रोगों से लोग परेशान रहते हैं, लेकिन हमारे पास जिस समस्या की शिकायत सबसे ज्यादा आती है वह है डैंड्रफ। बड़ी संख्या में लोग डैंड्रफ या रूसी की समस्या से प्रभावित हैं। इसके अलावा कई अन्य परेशानियां भी हैं जो सिर में खुजली या अन्य रोग उत्पन्न करती हैं।’ 

बालों की समस्या एक ऐसी समस्या है जिससे महिला और पुरुष दोनों ही परेशान हैं। खासकर रूसी या डैंड्रफ की समस्या। आइए जानते हैं बालों की समस्या और उससे निजात पाने के उपाय। 

डैंड्रफ बाल के साथ एक ग्रंथि होती है, जो तेल बनाती है। इसे सीवम कहते हैं। सीवम एक ऐसा तैलीय पदार्थ है जो हमारी त्वचा को मुलायम और चिकना रखता है। जिन लोगों में ये तैलीय ग्रंथियां अधिक सक्रिय हो जाती हैं उनमें तैलीय पदार्थ सफेद मवाद के रूप में त्वचा के ऊपर आकर जम जाते हैं और सूखकर कंधों और कपड़ों पर झड़ने लगते हैं। इस अवस्था को सबोरिया कहा जाता है। 

लक्षण 
डैंड्रफ हमारे सिर की त्वचा में स्थित मृत कोशिकाओं में पैदा होती है। इसकी वजह से सिर में खुजली रहती है और बाल गिरने लगते हैं। 
सिर में फुंसिया हो जाती हैं। सिर में लाल चकत्ते हो जाते हैं। 
डैंड्रफ होने पर सिर की चमड़ी के छोटे-छोटे टुकड़े निकलकर बालों में जमा होने लगते हैं। 
कई बार डैंड्रफ के कारण मुंहासे भी निकल आते हैं। 

कारण 
सिर की त्वचा की देखभाल में कमी मौसम में बदलाव एलर्जी समुचित पोषण की कमी हैवी वर्कआउट प्रदूषण कई तरह की एंटीबॉयोटिक्स के इस्तेमाल कम गुणवत्ता वाले शैम्पू का प्रयोग मानसिक तनाव 

उपचार 
डैंड्रफ से मुक्ति के लिए जरूरी इलाज से पहले ये जानना बेहद जरूरी है कि रूसी का कारण फंगस है या बैक्टीरिया। उसके बाद ही त्वचा रोग विशेषज्ञ इलाज शुरू करते हैं। इलाज के दौरान मरीज को सिर की त्वचा और बालों की देखभाल के लिए टिप्स दी जाती हैं। इलाज में ओटीसी युक्त एंटीडैंड्रफ प्रोडक्ट इस्तेमाल करने का भी सुझाव दिया जाता है। इसके अलावा अपने बालों का शुरू से ही खुद खयाल रखना जरूरी है ताकि बड़ी परेशानी से बच सकें। सेलिनियम सल्फाइड एंटीडैंड्रफ भी डैंड्रफ मिटाने में बेहद कारगर साबित हैं। -कीटाकोनाजोल शैम्पू फंगस संक्रमण पर काफी असरदार होते हैं लेकिन इसका भी सेवन डॉक्टर की सलाह के बाद ही करें। 
-जिंक पायरिथयोन युक्त शैम्पू फंगस और बैक्टीरिया का संक्रमण मिटाने में सहायक होता है। प्रोडक्ट्स में सेलेनियम सल्फाइड, साइलेकिक एसिड, जिंक पाइरिथीन और केटोकोनाजॉल होते हैं, जो डैंड्रफ को हटाने में मदद करते हैं। 

सिर की त्वचा में दाद 
ये त्वचा में होने वाला फंगल संक्रमण है। सिर और बालों की अच्छी तरह सफाई न हो पाने के कारण सिर की त्वचा पर दाद हो जाती है। 

उपचार 
इसके लिए एंटीफंगल टेबलेट कम से कम छह हफ्तों तक खाने को दी जाती है। सिर की सफाई तो जरूरी है ही। 

जुएं 
बालों की एक बहुत बड़ी समस्या है जुएं। जुएं सिर की त्वचा में चिपककर खून चूसती रहती हैं जिससे सिर में खुजली पैदा होती है और ज्यादा खुजाने से सिर की त्वचा कट-फट जाती है। आमतौर पर स्कूल जाने वाले बच्चों, लंबे बालों वाली महिलाओं और अस्वच्छ बालों में जुओं की समस्या होती है। 

उपचार 
बालों में जुएं पड़ने का मुख्य कारण बालों में गंदगी होना होता है। इसलिए जितना ज्यादा हो, बालों और सिर को साफ रखना चाहिए। जुएं निकालने वाली कंघी का इस्तेमाल करने में न हिचकें। मालथियोन या परमेथ्रीन युक्त लोशन का हफ्ते में एक बार इस्तेमाल करें। किसी अच्छी कंपनी के जुएं मारने वाले शैम्पू का प्रयोग करें(मृदुला,हिंदुस्तान,दिल्ली,30.11.11)। 


टिप्पणीःचिट्ठा चर्चाकार डा. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक जी ने इस पोस्ट को 6 दिसम्बर,2011 के चर्चामंच पर भी लिया है।

9 टिप्‍पणियां:

  1. सुन्दर प्रस्तुति पर बधाई स्वीकारें ||

    chitrayepanne.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत ही अस्वस्थ हैं। बस गिने चुने बचे हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  3. ham to rangen baon men jee rhae hain bahut sathak post unke liye jinke bal hain :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. जानकारी भरी उपयोगी पोस्ट !

    आभार ||

    उत्तर देंहटाएं
  5. इस ब्लॉग पर बहुत कुछ जानने और समझने का मौका मिलता है ... अच्छी जानकारी

    उत्तर देंहटाएं
  6. आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल मंगलवार के चर्चा मंच पर भी की गई है! अधिक से अधिक पाठक आपके ब्लॉग पर पहुँचेंगे तो
    चर्चा मंच का भी प्रयास सफल होगा।

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत अच्छी जानकारी !
    फिर से एक बार समय नीकाल कर ब्लॉग पर आने का
    निवेदन कर रही हूँ ! आभार आपका !

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।