बुधवार, 30 नवंबर 2011

फैट कैलरी नहीं,प्रोटीन कैलरी लें

स्लिम और हेल्दी रहने के लिए क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, इसमें हमेशा कन्फ्यूजन बना रहता है। कोई कहता है कि कार्बोहाइट्रेड का सेवन हेल्थ के लिए अच्छा है, तो कोई कहता है कि इसका सेवन फायदे की जगह नुकसान अधिक पहुंचाता है। डाइटिशियन अंजना भारद्वाज बताती हैं, 'फैट कैलरी बॉडी में फैट बनाती है और प्रोटीन कैलरी बॉडी को स्लिम बनाती है। इसलिए खाने में प्रोटीन कैलरीज वाली चीजें अधिक होनी चाहिएं।' अगर आप कन्फ्यूजन में हैं कि आपको क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, तो आपको देते हैं कुछ जानकारी। 

लें प्रोटीन से भरपूर डाइट 
वॉशिंगटन के जानीमानी यूनिवर्सिटी मिसॉरी के रिसर्चर्स का कहना है कि प्रोटीन से भरपूर डाइट ब्रेन में खाने की इच्छा को नियंत्रित करने वाले संकेतों को कम कर देती है और इससे खाना कम खाया जाता है। 'ओबेसिटी' मैग्जीन के मुताबिक, प्रोटीन की अधिक मात्रा वाला भोजन लेना भूख को कंट्रोल करने का सबसे आसान तरीका है। इससे बहुत ज्यादा भूख नहीं लगती और आप बहुत ज्यादा नहीं खाते। 

बिना दूध वाली ग्रीन टी 
अगर आप दिनभर में कई कप चाय पीने के शौकीन हैं, तो ग्रीन टी के ऑप्शन पर जाएं। ग्रीन टी में मौजूद ऐंटीऑक्सीडेंट वजन कम करने में मदद करता है। लेकिन इसे बिना दूध डाले पीएं। फिजिशियन डॉक्टर अजय कहते हैं कि ग्रीन टी में दूध मिलाते ही टी में मौजूद ऐंटीऑक्सीडेंट का असर कम हो जाता है। दरअसल, इस चाय में फैट कम करने के कई तत्व होते हैं लेकिन दूध मिलाते ही चाय में फैट घटाने की कपैसिटी कम हो जाती है। गौरतलब है कि ग्रीन टी हेल्थ के लिए बहुत बढ़िया टॉनिक है और दिन में तीन बार ग्रीन टी पीने से आप अपने को फिट, फ्रेश और एनर्जेटिक रख सकते हैं। लेकिन यह फायदा अधिक तभी देती है, जब आप इसे बिना दूध के पिएं। 

मोटापा बढ़ाए और घटाए शहद 
शहद वजन घटाता भी है और बढ़ाता भी है। अगर आप इसे गर्म पानी के साथ नीबू डलाकर पीते हैं, तो एक महीने में दो किलो वजन घटा सकते हैं। इसलिए अक्सर डॉक्टर्स सुबह नीबू पानी के साथ शहद डालकर पीने की सलाह देते हैं। वहीं अगर आप शहद को गर्म करके पीते हैं, तो यह शरीर के लिए फायदेमंद की जगह नुकसानदेह साबित होता है। इसके अलावा, अगर आप दिनभर में कई चम्मच शहद यूं ही खा लेते हैं, तो आपका वजन बढ़ना तय है। 

पनीर: कभी-कभी 
यूं तो पनीर खाने में बेहद टेस्टी लगता है, लेकिन इसमें कैलरीज बहुत ज्यादा होती हैं। इसलिए अगर आपका वजन ज्यादा है, तो पनीर का सेवन कतई न करें या कभी-कभार ही करें। दरअसल, पनीर में टाइरामॉइन नाम का एंजाइम होता है, जो ब्लड प्रेशर को कुछ पॉइंट बढ़ा देता है। कई लोगों को पनीर की सब्जी व पकौड़े खाने के बाद सर दर्द होने लगता है, वह टाइरामॉइन की वजह से होता है। यह अच्छी तरह जान लें कि सभी डेयरी प्रॉडक्ट्स में से पनीर में सबसे ज्यादा फैट होता है। अंजना कहती हैं कि पनीर शरीर को कई जरूरी न्यूट्रिशंस तो देता है लेकिन फैट भी उसमें अच्छा खासा होता है। इसलिए इसे अवाइड करना ही बेहतर है। 

चीज से लिपटा न हो सलाद 
सलाद सेहत के लिए अच्छा है। फल और सब्जियों का सलाद बॉडी को हेल्दी बनाता है। लेकिन यह ध्यान न भूलें कि कहीं यह तेल में तला हुआ या चीज से लिपटा हुआ तो नहीं। अंजना कहती हैं, अगर रोज केवल सलाद खाया जाए, तो स्लिम होना बेहद आसान हो जाएगा। पर ऐसा करने से शरीर में प्रोटीन और फैट की कमी हो सकती है, जो बॉडी को दूसरे तरह के नुकसान देगी। 

 - कहा जाता है कि केले, अंगूर और गाजर नहीं खाने चाहिए, क्योंकि इनमें बहुत शुगर है। यह एकदम गलत है। इनमें ज्यादा कैलरीज नहीं होती हैं, बल्कि बॉडी को फायदा पहुंचाने वाले फाइबर, पोटेशियम वगैरह की मात्रा अधिक होती है। 

 - हाई प्रोटीन खाने में कम कार्बोहाइट्रेड होता है। पर कार्बोहाइट्रेड कम हो जाने से शरीर में पानी की कमी हो जाती है। इसलिए हाई प्रोटीन खाना न तो सुरक्षित है नहीं मोटापा कम करता है। 

 - कई लोग कहते हैं खाने के बीच पानी पीने से मोटापा घटता है। पर ऐसा नहीं है। पानी कुछ हद तक डाइजेशन में मदद करता है पर शरीर की कैलरी पर उसका कोई असर नहीं होता है। 

 - सुबह कार्बोहाइट्रेड का सेवन न करें, नहीं तो आपको जल्दी ही फिर भूख लग जाएगी। अगर इन्हें खाना है, तो साथ में प्रोटीन भी खाएं(सरोज धूलिया,नवभारत टाइम्स,दिल्ली,27.11.11)।

4 टिप्‍पणियां:

  1. कई महत्व्पूर्ण जानकारियाँ मिली !
    उपयोगी पोस्ट !
    आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  2. जानकारी से परिपूर्ण बहुत ही अच्छे तरीके से समझाया है।
    आप बहुत ही नेक कार्य करने में व्यस्थ है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. उपयोगी जानकारी से भरी हुई पोस्ट ....

    उत्तर देंहटाएं
  4. सही कहा , खाने में भी संयम बरतना ज़रूरी है ।

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।