सोमवार, 18 अप्रैल 2011

पंजाब का पहला सरकारी आयुर्वेदिक अस्पताल अमृतसर में खुला

अमृतसर में पंजाब का पहला आयुर्वेदिक अस्पताल खोल कर महानगर वासियों को सरकार ने उपहार दिया है। इस का उद्घाटन स्वास्थ्य मंत्री पंजाब लक्ष्मी कांता चावला ने रविवार को वेरका में किया । लक्ष्मी कांता चावला ने बताया कि पंजाब सरकार ने पांच आयुर्वेदिक अस्पताल खोलने का फैसला किया हैं जिनमें से अमृतसर में पहला अस्पताल आज खोल दिया गया है। उन्होंने बताया कि इन अस्पतालों में मरीजों का इलाज मुफ्त किया जाएगा और उन्हें दवाइयां भी फ्री में वितरित की जायेंगी। चावला के अनुसार यहां पर गंभीर बिमारियों का भी इलाज किया जाएगा, जिसके लिए विशेषज्ञ डाक्टरों की भर्ती की जाएगी।
एक प्रश्न के उत्तर में प्रोफेसर चावला ने बताया कि इन अस्पतालों में भारत सरकार की तरफ से चलाए जा रहे जैरीएटरिक केयर( बुढ़ापे में होने वाले रोग) तथा खून की कमी वाले रोगियों के इलाज को मुहिम के रूप में करवाया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री ने एक प्रश्न का उत्तर देते हुए बताया कि यह सही बात है कि अब आयुर्वेदिक इलाज में लोगों की रुचि बड़ी हैं। इस का कारण यह बताया कि पंजाब में पिछले चार, सालों से आयूष मेले करवाए जा रहे हैं। जिन में पूरे देश से आयुर्वेदिक दवाइयों के स्टाल और डाक्टर हिस्सा लेकर आयुर्वेदिक चिकित्सा संबंधी जानकारी लोगों को दे रहे हैं। चावला ने बताया कि इस कड़ी में दूसरा अस्पताल जालंधर,तीसरा बठिंडा चौक, लुधियाना तथा पांचवां होशियारपुर में खोला जाएगा। इसके अलावा पंजाब के प्राइमरी हैल्थ सेंटरों में 205 आयुर्वेदिक डाक्टर काम कर रहे हैं(दैनिक ट्रिब्यून,अमृतसर,18.4.11)।

2 टिप्‍पणियां:

  1. स्वागत योग्य कदम । यद्यपि फ्री सेवा कब तक जारी रह सकेगी यह प्रश्न लगता है ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. अच्छी जानकारी पंजाब वासियों के लिए ..

    उत्तर देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।