गुरुवार, 23 दिसंबर 2010

कम्प्यूटर ज़्यादा इस्तेमाल करने वालों के लिए...

आज हर क्षेत्र में कम्प्यूटर सबसे अधिक जरूरी अंग बन गया है। इसके बिना किसी भी कार्य की कल्पना करना भी मुश्किल है। ऐसे में अधिकांश लोग कम्प्यूटर पर ही वर्क करते हैं। अधिकांश समय कम्प्यूटर के सामने बैठना पड़ता है। जो लोग कम्प्यूटर पर लगातार आठ से दस घंटे काम करते हैं, उन्हें तनाव और थकान सहित कई रोग परेशान करने लगते हैं।
कम्प्यूटर पर लगातार आंखें लगाए रखना नुकसानदायक तो हैं ही इसके अलावा भी ऐसी कई छोटी-छोटी समस्याएं भी पैदा होती है, जिससे हम जाने-अनजाने लड़ते रहते है। इन समस्याओं से मुक्ति के लिए प्रतिदिन कुछ समय योग करना चाहिए।
कम्प्यूटर से होने वाली छोटी-छोटी बीमारियां
लगातार कम्प्यूटर पर कार्य करने से भुलने की बीमारी हो सकती है। आंखे कमजोर हो जाती हैं। चिड़चिड़ापन, पीठ दर्द, अनावश्यक थकान आदि यह सभी बीमारियां आमतौर पर सभी को सताती हैं। कम्प्यूटर पर लंबे समय तक काम करते रहने से दिमाग और हमारी आंखें इतनी थक जाती है कि केवल नींद से उन्हें आराम नहीं मिल सकता। साथ ही लापरवाही के चलते दूसरी बीमारियां भी हो सकती हैं
कैसे बचें इन रोगों से?
आपका कम्प्यूटर आपकी आंखों के ठीक सामने रखा हो। ऐसा न हो की आपको अपनी आंखों की पुतलियों को ऊपर उठाए रखना पड़े। कम्प्यूटर आंखों से कम से कम तीन फिट दूर रहना चाहिए। कम्प्यूटर पर कार्य करते समय अपनी सुविधानुसार हर 10-10 मिनट बाद 10 फिट दूर देखें। स्मृति दोष से बचने के लिए अपने दिनभर के काम को रात में याद करें। जो भी खान-पान है उस पर पुन: विचार करें। थकान मिटाने के लिए ध्यान और योग का लाभ लें।
योग है जरूरी
लगातार कम्प्यूटर पर वर्क करने वाले लोगों के लिए प्रतिदिन योग करना बहुत जरूरी हो गया है। दिनभर बैठे रहने से हमारे शरीर का ठीक से व्यायाम नहीं हो पाता। जिससे थकान और तनाव पैदा होता है। इससे बचने के लिए प्रतिदिन सुबह-सुबह योग करना सबसे अच्छा उपाय है(दैनिक भास्कर,उज्जैन,21.12.2010)।

4 टिप्‍पणियां:

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।