मंगलवार, 6 मई 2014

अस्थमा दिवस विशेषः मुश्किल बढ़ा रहे डॉगी के बाल, परफ्यूम की महक

सांस उखड़ने का दौरा पड़ जाता है। जरा सा मौसम बदलता सांस फूलने लगती है। सांस रूठ जाने का एहसास होता है। कोई खास चीज खाने पीने पर सांस जैसे जवाब देती हुई महसूस होती है। दम घुटने लगता है। डॉक्टर इसे दमा के लक्षण बताते हैं। इन लक्षणों को प्रकट होने देने से रोका जा सकता है। ऐसा तभी मुमकिन है जब हमारी सांसों में सेहत घुली होगी। 

दमा के दम के साथ जाने की बात भी सालों से सुनी जा रही है। आज की तारीख में चिकित्सा विज्ञान की तरक्की ने इसे झूठा साबित कर दिया है। दमा का बेहतर इलाज संभव हो गया है तो इससे बचाव को लेकर भी लोगों को जागरूक किए जाने पर जोर दिया जा रहा है। केंद्र सरकार द्वारा योग गुरु के रूप में नियुक्त आयुर्वेद के सीनियर फिजीशियन डॉ.एसपी गुप्ता कहते हैं, दमा ऐसी बीमारी है जिसमें श्वास नलियां सिकुड़ जाती हैं जिसकी वजह से मरीज को सांस अंदर लेने और बाहर छोड़ने में दिक्कत होती है। सांस की इस तकलीफ की वजह तमाम तरह की एलर्जी बनती है। किसी भी प्रकार की एलर्जी अपना असर नहीं दिखा सके इसके लिए शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता, जीवनशक्ति मजबूत होना जरूरी है। प्राणायाम हमारी जीवनशक्ति बढ़ाने के साथ ही सांसों की नलियों का आयाम बढ़ाता है। सीनियर फिजीशियन डॉ.राकेश कुमार के मुताबिक दमा का कारण चाहे कोई भी एलर्जी हो, लेकिन इसका कारगर इलाज उपलब्ध हो गया है। इनहेलर तकनीक से साइड इफेक्ट का खतरा लगातार कम होता जा रहा है। इनहेलर के इस्तेमाल से फेफड़ों की ताकत बढ़ती है। इनहेलर को पहले लोग आखिरी दवा मानते थे, लेकिन अब इसे पहली और सबसे कारगर दवा के रूप में स्वीकार किया जाने लगा है। यह दवा सीधे फेफड़ों में जाती है शरीर के बाकी हिस्सों पर इसका असर नहीं पड़ता। अस्थमा रोग विशेषज्ञ डॉ.अजीम इकबाल के मुताबिक इनहेलर दमा रोगियों के लिए वरदान बन रहा है। इसकी वजह से मरीजों में दमा के दौरे पड़ने की प्रवृत्ति कम हुई है। लोगों में इनहेलर का इस्तेमाल बढ़ने लगा है। इसकी वजह से दवा खाने की जरूरत कम हो रही है। ज्यादा गंभीर स्थिति में खाने की दवा असर करना बंद कर देती है। तब इनहेलर का ही सहारा लेना पड़ता है। 

बदला हुआ लाइफ स्टाइल दमा को दावत दे रहा है। वो चाहे डॉगी पालने का शौक हो या फिर एक से बढ़कर सुगंधित परफ्यूम के इस्तेमाल का। डॉ.अजीम इकबाल के मुताबिक जिन लोगों को धूल से एलर्जी के चलते दमा होता है उनके लिए पालतू जानवरों जैसे कुत्ते के बाल भी परेशानी का कारण बनते हैं। परफ्यूम, रूम स्प्रे, कॉइल का धुआं, कोई भी क्रीम, लोशन आदि के इस्तेमाल से भी एलर्जी हो सकती है। दमा के मर्ज की कोई उम्र नहीं है, लेकिन पंद्रह से पैंतीस साल के युवाओं में इसकी प्रवृत्ति ज्यादा देखने को मिल रही है। इसकी वजह उन्हें धूल का एक्सपोजर ज्यादा होना हो सकती है।

दमा के जो मरीज अपने इलाज पर ज्यादा पैसा खर्च करने की स्थिति में नहीं हैं वह होम्योपैथी का सहारा ले सकते हैं। जिला होम्योपैथी चिकित्साधिकारी डॉ.बीपी सिंह के मुताबिक होम्योपैथी में दमा का कारगर इलाज हो सकता है। होम्योपैथी में हर मरीज को अलग अलग दवा देने की जरूरत महसूस की जाती है। क्योंकि, सभी के लक्षण एक जैसे नहीं होते। इस चिकित्सा पद्धति से इलाज करते समय मरीज की मानसिक स्थिति भी ध्यान में रखी जाती है। पचास साल से कम उम्र के मरीजों का होम्योपैथी में पूरी तरह से इलाज हो जाता है। इलाज के दौरान और सामान्य स्थिति में भी दमा के मरीजों को ठंडी और खट्टी चीजें खाने से बचना चाहिए। कोल्ड ड्रिंक, आइसक्रीम आदि का सेवन बिल्कुल नहीं करें तो अच्छा है। आयुर्वेद फिजीशियन डॉ.एसपी गुप्ता के मुताबिक, दमा के मरीजों को चावल, उड़द, दही से परहेज करना चाहिए(हिंदुस्तान संवाददाता,मुरादाबाद,6.5.14)। 

दमा के संबंध में इस ब्लॉग पर पूर्व में प्रकाशित कुछ उपयोगी आलेखों का लिंक है- 

21 टिप्‍पणियां:

  1. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन सीट ब्लेट पहनो और दुआ ले लो - ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    जवाब देंहटाएं
  2. कुत्ते-बिल्ली पालना और उन्हें घर भर में घूमने देना ,बिस्तरों में घुसाना ,उन्हें छू कर बिना हाथ धोए खाना -पीना सब चलता है अब तो : अच्छा चेताया आपने !

    जवाब देंहटाएं
  3. बहुत अच्छी और उपयोगी जानकारी के लिये आभार !
    बहुत दिनों बाद आपका ब्लॉग खुला है :)

    जवाब देंहटाएं
  4. वास्तव में होमियोपैथी ही सबसे ज्यादा कारगर पद्धति है दमे के इलाज के लिए बेशक कुछ समय जरूर ज्यादा लगता है पर निदान पूरी तरह हो जाता है

    जवाब देंहटाएं
  5. आप हमारे साईट के लिंक को अपने साईस में मेनू में लगा दे, आपकी बडी मेहरबानी होगी। जनकल्याण के लिए इसे share करें:-Health knowledge in hindi

    जवाब देंहटाएं
  6. आपने jkhealthworld.com का लिंक विकिपिडिया से हटाया है जिसकी शिकायत हमने भगवान श्रीकृष्णजी से कर दी है क्योंकि हम लोगों की भलाई के लिए एक सोशल वर्क कर रहे हैं जिसके बीच में आप टांग अड़ा रहे हैं।

    जवाब देंहटाएं
  7. ऐक ज़रूरी जानकारी कुत्ते और गीदर के काटने पर उसे कभी भी नज़र अंदाज़ न करें हो सके तो फ़ौरन उसका ईलाज करें ईलाज ना करने की वजह से कभी भी हड़क उठ सकती है । और इंसान या पालतू जानवर जिसके भी काटा हो मर सकता है। और अगर ईलाज के लिये पैसे न हों तो आप बेफ़िक्र होकर हमारे पास चले आइये। या हमसे बात कीजिये।
    हमारे यहाँ सभी ज़हरीले जानवरों, कीड़े-मकोड़ों का ईलाज एकदम फ्री किया जाता है। हमारा कोन्टेक्ट और वहटसप नंबर है।
    बाक़र हुसैन बिजनोरी +919917813838

    जवाब देंहटाएं
  8. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  9. This is Very very nice article. Everyone should read. Thanks for sharing. Don't miss WORLD'S BEST

    GAMINGWORLD

    जवाब देंहटाएं
  10. I am very happy to see this post because it is very useful for me because there is so much information in it. I always like to read quality and I'm happy that I got this thing in your post. Thanks for sharing the best article post. visit Croma offers Croma coupons Croma Promo codes

    जवाब देंहटाएं
  11. Thank you for this information.
    gaatha is a unique audio platform where you will find stories, poetries, kids’ stories, spiritual and Motivational stuff all in audio form. You can enjoy listening all interesting content of your choice while finishing up your daily chores. Now time shortage will never be the hindrance for you to enjoy literature.
    gaatha

    जवाब देंहटाएं
  12. Very Informative article about asthma. Thanks for sharing.

    जवाब देंहटाएं
  13. Special Offer On Corrugated Boxes. Place Your Order & Get Up-to 10% Discount on Corrugated Packaging online at Upack.in

    जवाब देंहटाएं
  14. Packers and movers in Thane are the best.Get an Exclusive Packing & Moving Service Throughout India by Southern Cargo Packers and Movers.We are here to protect your goods.

    जवाब देंहटाएं
  15. Very well post!
    A lot thanks for sharing with us,
    We are again come on your website,
    Thanks and good day,
    Please visit our site,
    Buy logo

    जवाब देंहटाएं

एक से अधिक ब्लॉगों के स्वामी कृपया अपनी नई पोस्ट का लिंक छोड़ें।